बिहार राज्य की संस्कृति से रूबरू होने के लिए त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से 33 सदस्यीय टीम आई सीयूएसबी

 

सारे जहाँ से अच्छा  हिंदुस्तान हमारा, सारे जहाँ से अच्छे भारतवासी हमारे, सारे जहाँ से अच्छी संस्कृति हमारी ! हमारा देश, हमारा समाज, हमारे धार्मिक आस्थाएं, हमारे रीति - रिवाज, हमारा खानपान, हमारे त्यौहार, हमारे खेत, हमारे पहाड़, इत्यादि विश्व में सबसे अच्छा है ! यूँ कहें कि हमारा देश भारत अपने आप में एक विश्व है जहाँ संसार के लगभग सभी धर्मों के मानने वाले लोग रहते हैं, साथ-ही-साथ आपको देश के विभिन्न भागों में रहन - सहन, खानपान, पहनावा आदि में विविधता दिखाई पड़ती है जो अपने कहीं-न-कहीं सम्पूर्ण विश्व की विषेशताओं को प्रदर्शित करता है ! ऐसे विविध एवं विशाल देश पर हमें नाज़ है और हम फ़ख्र से कह सकते हैं कि सारे जहाँ से अच्छा  हिंदुस्तान हमारा ! ये महत्वपूर्ण बातें दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय (सीयूएसबी) के माननीय कुलपति प्रोफेसर हरिश्चंद्र सिंह राठौर ने सीयूएसबी के दौरे पर आई त्रिपुरा यूनिवर्सिटी की टीम को सम्बोधित करते हुए कहा !

 

मंगलवार (26 फ़रवरी, 2019) को विवि परिसर में त्रिपुरा यूनिवर्सिटी की 33 सदस्यीय टीम के लिए स्वागत समारोह का आयोजन किया गया था ! माननीय कुलपति ने त्रिपुरा यूनिवर्सिटी के शिष्ठमंडल को केंद्रीय विश्वविद्यालय के संक्षिप्त में परिचय के बाद मगध छेत्र के भारतीय एवं विश्व इतिहास में महत्वता के बारे में विभिन्न पहलुओं को साझा किया ! उन्होंने कहा कि आप प्राचीन भारत के मुख्य भूमि मगध में हैं जहाँ पर भगवान गौतम बुद्ध ने मोक्ष की प्राप्ति की, विश्व का पहला विश्वविद्यालय नालंदा विश्वविद्यालय भी इसी छेत्र में हैं, इसके अलावा कई स्थान हैं जहाँ आपको भारत की महानता और प्राचीन गौरव का एहसास होगा ! माननीय कुलपति ने त्रिपुरा यूनिवर्सिटी की टीम में प्राध्यापकों तथा विद्यार्थियों का अभिनंदन करते हुए उन्हें दौरे के साथ अच्छी यादों को संजोने की कामना की !

 

इसके पश्चात प्रति कुलपति प्रोफेसर ओम प्रकाश राय भी त्रिपुरा यूनिवर्सिटी के शिष्ठमंडल से रूबरू हुए और उनसे भारतीय संस्कृति से जुड़े तथ्यों को साझा किया ! इससे पहले कार्यक्रम की शुरुवात में डिन स्टूडेंट्स वेलफेयर (डीएसडबलू) डॉ० सनत कुमार शर्मा ने शिष्ठमंडल का स्वागत करते हुए सीयूएसबी के इतिहास और 2009 से अब तक के सफर के बारे में बताया ! सोशियोलॉजी के सहायक प्राध्यापक एवं ' एक भारत, श्रेष्ठ भारत ' के समनवयक डॉ० प्रिय रंजन ने सीयूएसबी में संचालित प्रकोष्ठ की गतिविधियों से उपस्थित लोगों को रूबरू करवाया ! इस अवसर पर जन संपर्क पदाधिकारी मो० मुदस्सीर आलम के साथ - साथ चीफ़ प्रॉक्टर प्रोफेसर कौशल किशोर, डॉ० समापिका महापात्रा, डॉ० अजय, सुश्री रेनू, डॉ० प्रज्ञा गुप्ता, डॉ० रिकील के साथ साथ बड़ी संख्या में प्राध्यापकगण एवं विद्यार्थीगण मौजूद थे।

 

 

गौरतलब हो कि ' एक भारत, श्रेष्ठ भारत ' सांस्कृतिक विनमय कार्यक्रम के तहत बिहार राज्य की संस्कृति से रूबरू होने के लिए त्रिपुरा यूनिवर्सिटी से 33 सदस्यीय टीम सीयूएसबी आई है! केंद्र सरकार द्वारा संचालित ' एक भारत, श्रेष्ठ भारत ' सांस्कृतिक विनमय कार्यक्रम के तत्वाधान में त्रिपुरा यूनिवर्सिटी के छात्र तथा छात्राओं की टीम अपने प्राध्यापकों की अगुवाई में केंद्रीय विश्वविद्यालय आए हैं ! त्रिपुरा यूनिवर्सिटी की टीम करीब 10 दिनों के लिए सीयूएसबी के दौरे पर आई है जिसमें दोनों विश्वविद्यालयों द्वारा दो राज्यों के संस्कृतियों का आदान - प्रदान विभिन्न कार्यक्रमों के ज़रिये देखने को मिलेगा !

 

सोशियोलॉजी के सहायक प्राध्यापक एवं ' एक भारत, श्रेष्ठ भारत ' के समनवयक डॉ० प्रिय रंजन ने कहा कि दौरे पर त्रिपुरा विश्वविद्यालय की टीम के विद्यार्थीगण सीयूएसबी के विद्यार्थियों के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे ! उन्होंने बताया कि बाँसुरी वादन, त्रिपुरा का परिचय, बंगाली कविता पाठ, शिव तांडव, दुर्गा पूजा एवं धुनुची नृत्य, परंपरागत पहनावा शो, आदि कुछ प्रमुख कार्यक्रम हैं जिसे टीम द्वारा प्रस्तुत किया जायेगा !

 

 

Campus


SH-7, Gaya Panchanpur Road, Village – Karhara, Post. Fatehpur, Gaya – 824236 (Bihar)

Contact


Reception: 0631 - 2229 530
Admission: 0631 - 2229 514 / 518
                        - 9472979367

 

Connect with us

We're on Social Networks. Follow us & get in touch.

Visitor Hit Counter :

11666022 Views

Search