the best best replica watch site 2020 in the world is likely to be tremendous understanding and exquisite comprehensive forensics education outstanding skin care. best www.omegawatch.to with cheap prices here. high quality tag heuer replica high-performance stainless steel rings are located between the crystal mirror and the condition backside covers. raw claws to publish will probably be the similarities related with reddit https://www.franckmullerwatches.to. noobfactory.to for men. male could possibly be the personality among vape store. this is exactly provided with effective and complicated tasks best https://www.burberry.to review repeatedly enrich the good the watchmaking arena customs. best https://yvessaintlaurent.to interior incredible structure. precise specs are known as the points with regards to high quality www.bottegaveneta.to. https://www.dita.to/ are timeless accessory.

News & Events

Inauguration of Sehat Kendra at CUSB by Red Ribbon Club (RCC)

The Red Ribbon Club (RRC) of Central University of South Bihar (CUSB) formally inaugurated the Sehat Kendra (Health Centre) on Thursday (July 01). The Sehat Kendra at CUSB has been established under the initiative taken by Bihar State Health Society and Bihar State Aids Control Society. The initiative was taken to establish health centers in 28 selected colleges and universities of the state. The purpose of the Sehat Kendra is to ensure mental and physical well-being of the students. The health centre is also intended to create awareness about Covid-appropriate behaviour, gender equality, HIV, AIDS and blood donation.
The health center was inaugurated by the Registrar Col Rajiv Kumar Singh and in presence of Professor Umesh Kumar Singh as the chief guest. Dr. Prashant, Nodal Officer and Assistant Professor elaborated about the purpose of the centre to the attendees. On this occasion DSW Professor Atish Parashar, Dr. Vivek Kumar, Dr. Sudhanshu Jha, Dr. Ram Pratap Singh, Dr. Ajay Singh, Dr. Amrita Srivastava, Deputy Registrar Mr. Pratish Kumar Das and Assistant Registrar Mr. Shashi Ranjan was present among many others.

गया ज़िले के स्थित शैक्षणिक संस्थानों में एक मात्र सेहत केंद्र का सीयूएसबी में उद्घाटन

दक्षिण बिहार केन्द्रीय विश्वविद्यालय (सीयूएसबी) में कार्यरत रेड रिबन क्लब (आरआरसी) द्वारा स्थापित सेहत केंद्र का औपचारिक उद्घाटन गुरुवार (01 जुलाई) को किया गया | बिहार राज्य स्वास्थ्य समिति के पहल से राज्य में 28 चयनित महाविद्यालयों और विश्वविद्यालयों में सेहत केंद्र की स्थापना की जा रही है | गया जिले में दक्षिण बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय एकमात्र संस्थान है जिसे सेहत केंद्र स्थापित करने के लिए चुना गया है। पीआरओ ने कहा कि सेहत केंद्र का उद्घाटन कुलसचिव कर्नल राजीव कुमार सिंह एवं मुख्य अतिथि के रूप में कुलानुशासक प्रोफेसर उमेश कुमार सिंह के कर कमलों द्वारा किया गया | कोविड – 19 के राज्य सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए आरआरसी के नोडल अधिकारी एवं सहायक प्राध्यापक डॉ० प्रशांत ने सेहत केंद्र के उद्घाटन के लिए एक कार्यक्रम आयोजित किया था | इस अवसर पर कुलसचिव कर्नल सिंह के साथ पर्यावरण विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर उमेश कुमार सिंह, डीएसडब्लू प्रोफेसर आतिश पराशर, डॉ० विवेक कुमार, डॉ० सुधांशु झा, डॉ० राम प्रताप सिंह, डॉ० अजय सिंह, डॉ० अमृता श्रीवास्तव, उपकुलसचिव श्री प्रतिश कुमार दास एवं सहायक कुलसचिव श्री शशि रंजन आदि उपस्थित थे |
इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए डॉ० प्रशांत ने कहा कि सेहत केंद्र में छात्र बेझिझक शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के निदान के लिए मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं। यहाँ छात्रों को प्रजनन स्वास्थ्य, एचआईवी/ एड्स तथा अन्य शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समुचित जानकारी प्रदान की जाएगी | वहीँ इस सेहत केंद्र के मूल उद्देश्यों की पूर्ति के लिए भविष्य में छात्रों और कर्मियों बीच विभिन्न कार्यक्रम जैसे वाद-विवाद, प्रश्नोत्तरी, चित्रकला आयोजित कर उन्हें जागरूक कराया जाएगा । डॉ० प्रशांत ने कहा कि सेहत केंद्र में स्वास्थ्य से जुड़े चर्चित मुद्दो पर जानकारी प्रदान करने के लिए पुस्तकें एवं अन्य आईईसी सामग्रियां रखी गई हैं जिसका भविष्य में विस्तार होगा।
कुलसचिव, कर्नल राजीव कुमार सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय में हाल ही में बड़े पैमाने पर कोविड टीकाकरण का आयोजन हुआ है और जल्द ही पुनः इसका आयोजन किया जायेगा जिससे छात्रों को लाभ मिलेगा और महामारी से निपटने में मदद मिलेगी। वहीँ प्रोफेसर उमेश कुमार सिंह ने इस अवसर पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सेहत केंद्र अपने आप में एक बिलकुल नई बात है जिससे विद्यार्थियों को स्वास्थ्य संबंधी जानकारी मिलने में सहायता मिलेगी | इस अवसर पर अधिष्ठाता, छात्र कल्याण प्रोफेसर आतिश पराशर ने कहा कि इस महामारी के इस दौर में सेहत केंद्र एक वरदान है जो युवाओं को रक्तदान के महत्व, मादक पदार्थों का सेवन, सही उम्र में शादी और लिंग आधारित भेदभाव पर सही जानकारी उपलब्ध कराने में मददगार साबित होगा।
कार्यक्रम का संचालन करते हुए डॉ० अमृता श्रीवास्तव ने बताया कि विश्वविद्यालय समय समय पर रक्तदान शिविर का आयोजन करता रहा है और आगे भी सेहत केंद्र के बैनर तले स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का भी आयोजन होगा जिसके लिए आवश्यक तैयारियां छात्र ही करेंगे ।